Sunday, November 25, 2018

Sab Jag Rhe Tu Sota Rah..-Motivational Poem By Kavi Sandeep Dwivedi

आइये, स्वागत है  कवितायेँ पढ़ें भी और सुनें भी.. सब जाग रहे तू सोता रह  यह कविता मैंने 2017 में लिखी थी। मैं तब कई दिनों से स्वास्थ्य ...

Saturday, November 24, 2018

पल जब इंतज़ार का हो ,कुछ इस तरह इंतज़ार करना ..:Best Love Poem : Kavi Sandeep Dwivedi

आइये ,स्वागत है  कविता पढ़ें भी और सुनें भी .. पल जब इंतज़ार का हो .. Love is the most pleasant feeling...Moment of wai...

Tuesday, November 20, 2018

शिवानन्द द्विवेदी - My Village Pride

  आई आई टी, मुंबई  से गणित में मास्टर...इटली,ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी  में गणित के कई थ्योरम पर रिसर्च  और इन कई उपलब्धियों के बाद आकस्मिक पर...

Sunday, November 18, 2018

Maine Likhne Ko Tumhe Tha ..Prem Ka Sagar Chuna.. - Kavi Sandeep Dwivedi Best Love Poem

मैं कहूँ तो क्या कहूँ.. थी अधूरी सूचना  या भाव तुम समझे नही..  क्यूंकि तुमने जो कहा  हम उस तरह तो थे नही..  मैंने लिखने ...