Saturday, November 24, 2018

पल जब इंतज़ार का हो ,कुछ इस तरह इंतज़ार करना ..:Best Love Poem : Kavi Sandeep Dwivedi

आइये ,स्वागत है 
कविता पढ़ें भी और सुनें भी ..





पल जब इंतज़ार का हो ..

Love is the most pleasant feeling...Moment of waiting in Love is that stage which shows the Importance of the Special one..Those moments become more magical when u start living them with your loved ones even in your day dream... These lines are totally dipped in those moments of waiting and Love even after being apart...
i have written this in 2016.

पल जब इंतज़ार का हो 
कुछ इस तरह इंतज़ार करना
जैसे जहां में तेरे लिए
बस मैं ही हूँ..बस मैं ही हूँ ..


हर बार सावन की बारिशों में
ऐसे मेरा एहसास करना..
तुम पर टपकती बूँद में
बस मैं ही हूँ..बस मैं ही हूँ ...
पल जब इंतज़ार का हो ....


ग़र मैं कभी गिर पडूं
वक्त के दिए हालात से
ऐसे मुझे संभाल लेना...
जैसे की तेरा हौसला
बस मैं ही हूँ..बस मैं ही  हूँ ..
पल जब इंतज़ार का हो ....


दुनिया की भागा दौड़ी में
उलझा जो तुमको दिखूं मैं
कुछ ऐसे मुझे समेट लेना..
जिसे तुम्हारे एकांत में
बस मैं ही हूँ ..बस मैं ही हूँ ...
पल जब इंतज़ार का हो...


दुनिया के हजारों रंगों में
ग़र मैं कभी फीका लगूं
ये सोच अकेला न छोड़ना..
जैसे तुम्हारी रंगीनियत
बस मैं ही हूं..बस मैं ही हूँ ..
पल जब इंतज़ार का हो ....
                                                            - Kavi Sandeep Dwivedi

आप यह भी पढ़ सकते हैं ...
तो बेहतर था...touching lines