Tuesday, January 22, 2019

Kargil Vijay Diwas : जिंदा हैं तेरे लाल अभी by Kavi Sandeep Dwivedi : Salute to Indian Army : Repunlic Day Special



ज़िंदा हैं तेरे लाल अभी 


भारत मां अपने हाथों में
यूँ ही जय ध्वज थामे रखना
तुझ पर न्योछावर होने को
सीना ताने तैयार यहाँ
हिम्मत किसकी जो छू  भी दे
सीमा पर हूँ बन ढल अभी
भारत मां अपना दिल न दुखा
जिंदा हैं तेरे लाल अभी 


तू गीत सुना मां वो जिसमे
वीरों की खुशबू आती है
गाते गाते जिनको अक्सर
तेरी आंखें भर आती हैं
हम उन्ही वीर के वंशज हैं
है वही जोश और प्यार अभी
भारत मां ...


मुझे बहती नदियाँ तेरे
उड़ते आँचल सी लगती है
इस मिटटी का हर कण जैसे
तेरे अंगों को रचती है
कितने ही तेरी गोदी में
हैं भगत सिंह आज़ाद अभी
भारत मां....


सीमा पर मेरा देख कहर
फिर देख ज़रा पीछे मुड़कर
खेतों में लहराती फसलें
आती होगी खुशबू उड़कर
हम चूम रहे मां अम्बर को
बाकी है और कमाल अभी
भारत मां...

kavi sandeep dwivedi

follow on
insta/twittter/kavi sandeep dwivedi