जीवन गिरता उठता है ..Best Motivational Poem..Kavi Sandeep Dwivedi


हमें जो अनुभव मिले उसे सहेज कर रखने में हित है...इसी के बल पर कितने ही उतार चढ़ाव आते रहे हैं ..और हमने कितनी कुशलता से उनको सुलझाया भी है  सामना किया है ...और हम सबको यही हुनर नयी सीखें हमें आगे के लिए संजोते रहना है .

पढ़ें 👉|कौन हारता नही। Best Motivational Poetry

मिलना छूटना, पाना खोना जीवन के स्तम्भ हैं..बात यह है कि हमें अपने भीतर में जीवित रहना है ...भले ही हार हो...भले ही कुछ न मिले ..यही जीत है जो बहुत कम में होती है ..

पुरानी घटनाएं पुरानी हैं ...उनसे केवल हम सीख लें ..बाकी छोड़ दें ..

यह जीवन है .. .न  संभावनाएं कम हैं ..न आपदाएं

लड़ते रहें और ये कविता गाते रहें ...बहुत ऊर्जा मिलेगी ...

जो  नही मिला

क्या उसका ग़म

की थी कोशिश

कब तुमने कम

जो रुका  नही

तेरे खातिर

क्यों उसके खातिर

रुकता है

जीवन गिरता उठता है ...

 

दिल फिसले तो समझा लेना

ख़ुद से ही क्या पंगा लेना

न मुश्किल कुछ भी पा लेना

ना मुश्किल कुछ भी खो देना

नाव भले मझधार में हो

नाविक कब इनको झुकता है

जीवन गिरता उठता है ...

 

भीतर क्यों भरी उदासी है

ये भरी नदी क्यों प्यासी है

हर बार दिशा सुलझाएगा

यह जीवन गंगा, काशी है

जिस पग को मीलों चलना है

एक दो पग किसको चुभता है

जीवन गिरता उठता है ...

 

थामें सागर को पर्वत भी

लहरों को देख उछलता है

वीणा का हर तार किसी

साधक के लिए मचलता है

ये मोह तभी बनता है जब

जीवन का क्षण क्षण घिसता है

जीवन गिरता उठता है ...

जीवन गिरता उठता है .. 

   - kavi sandeep dwivedi

धन्यवाद,मिलते हैं फिर कुछ और लेकर...

शुभकामनाएं...

यह भी पढ़ें। पत्र मेरा प्यार वाला।। Best Love Poem.. 

Comments

  1. Your poems are always inspiring.

    ReplyDelete
  2. Sir Namaste I want to share with you Rashmirathi Krishna ki chetawani sung by my kid.plz motivates him

    ReplyDelete
  3. Aap ne pustake gift karne ka acha chiz suru kiya hai manyavar. Ek chiz aur suru kare apne followers Naye kaviyon ki kavitaye logo k sath sanjha karna ki ek choti si kosis suru kare. Aap ka upkaar hoga hamre jaise kaviyon k liye.
    Dhanyavaad aap ka!

    ReplyDelete
  4. नमस्कार सर मैं आपको बहुत दिनों से यूट्यूब के माध्यम से देखता हूं और मुझे आपकी कविताओं से बहुत प्रेरणा और सीख मिलती है जीवन में जब भी कशमकश की स्थिति में रहता हूं तभी मैं आपकी कोई ना कोई प्रेरणादायक कविता सुन लेता जिसमें मेरी सबसे प्रिय कविता जो रश्मिरथी है यदि राम सा संघर्ष हो मुझे बहुत प्रिय है मैं कुछ अपने बारे में भी बताना चाहता हूं महोदय मैं अपनी शिक्षा पूरी कर अभी एक अपना एनजीओ चलाता हूं गौ रक्षा सेवा समिति साथ ही अपनी कॉम्पिटेटिव एग्जाम की तैयारी में भी लगा हूं लेकिन महोदय कभी कभी जीवन में समझ में नहीं आता कि मैं क्या कर रहा हूं मुझे समाज सेवा में जाना चाहिए समाज सेवा में जाना चाहिए मेरी रुचि है तो मेरे जीवन यापन का साधन क्या है अगर मैं अपने जीवन यापन में जाता हूं वहां मेरा मन नहीं लगता म मेरा मन समाज सेवक की तरफ से जागृत रहता है अगर आप इस मेरी कमेंट को पढ़ रहे हैं तो मुझे जरूर सुझाव दीजिए आशा करता हूं आप कुशल होंगे खुश होंगे
    आपका छोटा भाई
    आपका शुभचिंतक
    अभिषेक कौशिक

    ReplyDelete
  5. Sir I'm your big big fan n I really like your Poems n inspired also... 😇

    ReplyDelete

Post a Comment