Monday, August 12, 2019

Independence Day Special : अखिल आदि अद्वितीय भारत...मैं धन्य हूँ जन्मा यहाँ..!! Some Lines for Incredible India : written by Kavi Sandeep Dwivedi

हमारे देश ने गौरव की असीम ऊँचाइयाँ देखि है  पूरे विश्व को हमारे ज्ञान पर नतमस्तक होते देखा है  हजारों कोशिशों के बाद भी नष्ट न होने वाली...

Monday, August 5, 2019

विश्व ने राम को जाने क्या क्या कहा....सीता कहती रही राम ही सत्य थे..: Kavi Sandeep Dwivedi Poem

आइये स्वागत है.. कविता सुनें भी पढ़ें भी .. सीता कहती रही राम ही सत्य थे ... कब उन्होंने कहा मैं चलूँ साथ में पथ ये वनवास का मैं...