NEET |परिणाम, सपनें और माता पिता #EXAMS #NEET #RESULTS #PARENTS #DREAMS


मुझे याद है जब मेरा pre polytechnic test (PPT) का फॉर्म भराया गया था मेरे घर वालों द्वारा। सच कहूँ मुझे इसकी ABCD भी नही पता थी। पॉलीटेक्निक का नाम मैंने सबसे पहले फॉर्म में और पिता जी से ही सुना होगा..
              मैंने आगे डिग्री भी की वो भी फर्स्ट डिवीजन से लेकिन मैं भीतर से कभी इंजीनियर न बन सका...मैं कोई फ़िल्मी बात नही कर रहा..आप यह बिल्कुल कह सकते हैं कि मेरे विचार थ्री इडियट्स फिल्म से प्रभावित हैं..पर मैं यही कहना चाहूँगा कि इस फिल्म से हम नही हम जैसे कईयों से यह फिल्म प्रभावित है ...
  बस आज जिस विषय पर अपने भाव आपके साथ बांटना चाहता था तो बस अपने से शुरुआत की ..
कुछ दिन पहले नीट(NEET) का परिणाम आया ....
कुछ बच्चों के सपने साकार हो गये ..कुछ बच्चों को दुबारा प्रयास करना पड़ा.। 
   जो सफल हुए उनके परिवार की ख़ुशी जायज है...होना चाहिए..बच्चों को भी अच्छा लगता है ..
लेकिन जो उस रैंक तक नही आ पाए या सफल नही हो पाए आज बात उन पर है..
उनके परिवार की प्रतिक्रियाएं...समाज की प्रतिक्रियाएं 
कुछ माता पिता को लगता है उनका सपना टूट गया..बिलकुल टूट गया होगा..पर क्या जिनसे सपने हैं उनको तोड़ा जाना चाहिए..सपने पूरे न होने की इतनी बड़ी सजा ?
दुनिया में यदि ऐसा हो तो अपने थोड़े अनुभव के दम पर विश्वास के साथ कह सकता हूँ कि दुनिया के 90 प्रतिशत लोग टूटे हुए मिलेंगे ..क्योंकि सबके सभी सपने पूरे कहाँ होते हैं ..कमी रह ही जाती है ...
जो माता पिता एक परीक्षा के बाद बच्चों का भविष्य निर्धारित कर देते हैं उन्हें यह विचार स्वयं से होकर भी गुजारना चाहिए.. 

अरे, असफलता भी जीवन में अपना स्थान रखती है ...
बिजली एक दिन में बन गयी थी क्या ?
हवाई जहाज पहले ही दिन में हवा से बातें करने लगा था क्या ?
आप कभी असफल नही हुए क्या ?
जवाब यदि 'न' में आया हो तो एक बार अपने भीतर पूछिये ..शायद इस जवाब से कुछ अलग मिले। 


कहना ये चाहता हूँ कि उसको ये बताएं कि उसकी रैंक नही आयी ..पर उसको ये न जताएं कि वो किसी काम का नही रहा ..ये झूठ है..बहुत बड़ा झूठ..बिल्कुल झूठ। 
आप ये झूठ उसको जता कर बार बार सच में तब्दील न करें..

डोर रखें लेकिन पतंग अगर उड़ान मांगे आसमान में तो डोरी थोड़ी थोड़ी ढीलते जाएं 
उसके पास बैठें..बात करें 
डॉक्टर न भी बन सका तो क्या कुछ नही बन पायेगा ?
..क्या पता आपने हौसला दिया तो वो..वो कर जाय जो आपके ख्वाब को बौना साबित कर दे ...

और अगर उसके कुछ अपने सपने हों डॉ बनने के अलावा तो एक बार उसे भी सुन लिया जाय ...क्या हर्ज है..
आपको सही लगे तो साथ दे दीजिये..अगर बुरा लगे तो उसे वजह बता दें ...समझ जायेगा...
पर सपने दिल की बाते हैं हर सपने पैसे की ओर नही भागते ..अगर ऐसा भी कोई सपना हो तो थोडा विचार करियेगा ...वो कुछ बेहतर कर लेगा ...

अगले साल फिर होगा एग्जाम..फिर देगा ..हो जायेगा ...अब जगह सीमित है...कई बार परिस्थितियां ...कुछ प्रश्न ऐसे आ गये होंगे जो न पढ़ा होगा ..कुछ हडबडाहट में गलती हो गयी होगी ..हो जाता है ...उसे हिम्मत देंगे तो ये सब ठीक कर लेगा ...
आप कुछ गुर जानते हैं तो बताते रहें..समझाते रहें ...
कुछ प्रेरक किताबें पढने को दें...हार से लड़ना सिखाएं ..हार से हारना नही ...
बच्चा है ,कर लेगा ..💐💐⛅⛅

Comments

  1. Boht boht dhanyavad Sir
    Is vishay pr kahani likh kr sbhi mata-pita ko samajhane ke liye.Na jane kitne viddharthi iss samay nirash honge neet me rank na lane ke karan 😔

    ReplyDelete

Post a Comment